नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 9817784493 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , देशी गाय गोबर महत्व जगाओ, मालामाल होकर जनसेवा पुण्य पाओ -गाय गोबर आने वाले युग में सोना से महंगा कीमती महंगा कीमती होगा। – समाज जागरण 24 टीवी

देशी गाय गोबर महत्व जगाओ, मालामाल होकर जनसेवा पुण्य पाओ -गाय गोबर आने वाले युग में सोना से महंगा कीमती महंगा कीमती होगा।

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊
(सरकार के पास कई योजनाएं ट्रेनिंग की व्यवस्था है जिससे रोजगार लोन भी मिलती है सब्सीसीडी भी मिलती केवल नियत से करने की जरूरत है-)–राजश्री ठाकुर –

राजश्री ठाकुर -महिला सम्पादक 
    देशी गाय महिमा महत्व की सीख हमारी संस्कार निति से लुप्त होने से गाय केवल दूध व्यवसाय  सहारा कमजोर होते ही सड़कों पर बेसहारा होना हमारे चलन में आ चूका है।
जिस गाय के घरों में रहने से वास्तु दोष रोग मुक्त घर हुआ करते थे अब सड़कों में आ जाने से गाय गौचराण भूमि अतिक्रमण हो जाने से भी बे सहारा हो गयी है। लोगों के लिए संकट होने से सड़के जाम लगती हैं नाम मात्र की गौ शालाएँ भी बेबसी दिखाकर सड़कों में छोड़ी गौधन से लोग परेशान हैं की उन्हें कहीं सहारा भी दें तो महंगा चारा और सेवक की वेतन पूर्ति का खर्च कैसे कितने दिन भर पाई हो सकेगी।
गाय गोबर इन दिनों मोदी सरकार फार्मूले में एक वैज्ञानिक तरीकों से आय का बाजार बन गया है-

लाखों महिलायें गौ गोबर तकनिक से कंडे लकड़ियाँ दिए धुप बत्ती गौ मूत्र से ओसधि का बाजार कमाई कर रहीं हैं। अच्छी आमदनी से महिला समूह के रोजगार फल फूल रहे हैं। कई महिलाएं तो गौ शाला भी खोलकर आय और जन सेवा सम्मान ले रहीं हैं।

स्नेह का भंडार गाय के पास ही है-
गाय इन दिनों सियासती लोगों के लिए काफी लाभ भी देती है– मगर दिल और दिमाग की समझ से गाय आमदनी और जनसेवा पुण्य मुकाम भी दे सकती है बशर्ते गाय कहती है हमे सहारा संरक्षण दो हम तुम्हे मालामाल क्रर देंगे। गाय जबरदस्त ओसधि भंडार है। बाँझ ना होने देने, यह देवत्व गाय के पास ही है –शास्त्र में देशी गाय घी केंसर माय ग्रेन इत्यादि रोग गायब करने का फार्मूला आज भी लोग मानते हैं पूजा में गोबर लिपाई गाय घी हवन की जरूरत में खोजे जाते हैं। महंगा घी भी लाया जाता है मगर घर में गाय पालना महंगा लगता है। वजह कारण का निदान ना मिलने और गावों समाज की शहरी समझ और चमक हो जाने से गाय हमारी माता अवश्य है मगर सड़कों में खोजने रोटी खिला देने तक ही पुण्य कमा लेते हैं बाकी मुसीबत कौन ले ?

अधिकतर लोगों को परेशान लगने से गाय सेवा नहीं बोझ बनती जा रही है?

     सरकार आपने हिसाब से बहुत कुछ दे रही है मगर गाइड लाइन रोल मॉडल आदर्श नियम पारदर्शिता और मजबूत होने चाहिए। सेवा भावना से जुड़े लोग प्रोत्साहित हों उन्हें सम्मान सुरक्षा मिलनी चाहिए। वास्तव में गौ शाळा के करीब एक भी आवारा गाय ना दिखे जरूरी है यह गौशाला का सम्मान नहीं अपमान होता है। गाय गोबर गौमूत्र कमाई का बेहतर श्रोत हैं तकनीक से कई कार्य देश में उद्भयमि तैयार हो रहे हैं। गौ सेवा आयोग छोटी से छोटी गौशाला का अअध्यन और प्रोत्साहन करे।
देशी गाय गोबर से बने गमले की शान यह है की उसमे पौधे ज्यादा जी जाते हैं और टूटने पर खाद बन जाते हैं। गमलों में लगे फूल मछरों को पास नहीं आने देती है गेंदा इत्यादि कई फूल की महक घरों की कीटाणु से रक्षा करते हैं। गोबर लेप से दीवार ठंडी रहती हैं एयर कंडीशनर की जरूरत नहीं पड़ती। गाय गोबर में चंदन कपूर घी मिला कर धुप से घर महकता है घर की उनंनती में बहुत लाभ होता है।गाय गोबर आने वाले युग में कीमती सोना से महंगा कीमती होगा। उद्यमी विकास योजना जनकल्याण केंद्र गुलज़ारीलाल नंदा फाउंडेशन प्ररेणा से काफी प्रयोग जल्द साने आएंगे। 
सरकार के पास कई योजनाएं ट्रेनिंग की व्यवस्था है जिससे रोजगार लोन भी मिलती है सब्सीसीडी भी मिलती केवल नियत से करने की जरूरत है मेहनत तो हर काम में सफलता की परीक्षा लेती है। एक गाय देशी बिना दूध बेचे 40 किलो गोबर शुध्द कमाई एक लाख से ऊपर है दूध कमाई अलग।-                                                                                                              अनेक पुरस्कारों से सम्मानित प्रधानमंत्री भारतरत्न नंदा जी के परम शिष्य गुलज़ारीलाल नंदा फाउंडेशन के चेयरमेन श्री कृष्णराज जी अरुण महाराष्ट्र में वर्षों पूर्व नाडेप कम्पोस्ट गौधन संरक्षण विकास परिषद के कार्यकारि प्रमुख रूप में हजारों कृषकों के लिए कार्य योजना चला चुके कहते हैंकि गाय की महिमा महत्व और जैविक खेती महत्वज मोदी युग सरकार में विज्ञानियों को सबसे बड़ा महत्व मिल चूका है। अब गाय और अन्य खेती विकल्प से डिजल पेट्रोल की कीमत 2024 आते ही आधी हो जाएगी ऐसी प्रबल संभावना है । गन्ना धान इत्यादि से इथेनॉल ईंधन मिलेगा MSME मंत्रालय और नितिन गडकरी जी ने पीएम आज्ञा से बड़ा रिजल्ट दिखाया।
ईंधन चूल्हा गैस सिलेंडर उपयोगी 2025 में बेहद सस्ता मिल सके जबरदस्त कार्य चालु है। मेक इन इंडिया 30 लाख से अधिक उदयमी रोजगार उदयमी हो जाने से विदेश में बैठे भारतीय भी अपनी मिटटी की तरफ दौड़ेंगे। भारत की यह सक्षमता है की वह डूब रहे देशों की अर्थ व्यवस्था को उभार सकता है बशर्ते युद्द की छद्म इरादे छोड़ के आवाम को सहभागिता शिक्षक रोजगार दे।
गाय गोबर आने वाले युग में कीमती सोना से महंगा कीमती होगा।

इच्छुक लोग प्रयोग आजमा सकते हैं ज्यादा जानकारी हमारी पत्रिका 8307363842 cont.समाज जागरण सम्पादक जन सेवा सुचना केंद्र से ले सकते हैं।

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

June 2024
M T W T F S S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930